शुभ दीपावली

अंततः इतने इंतजार के बाद आज दीपावली आ ही गयी।दीपावली आने के पहले से ही घरों में लोग उंगलियो पे दिन गिनने लगते हैं। बच्चे अलग ही उत्साह में रहते हैं। नए नए पटाख़े, नए कपड़े सब कुछ नया सा। दीपावली के साथ साथ हल्की सर्दी की भी शुरुआत हो जाती है। हर जगह सफाई का माहौल अच्छा लगता है। दीपावली क्यों मनाई जाती है इसके पीछे की कहानी तो लगभग सब जानते होंगे, फिर भी आज के दिन एक बार फिर दोहराना तो बनता है।


आज के दिन ही भगवान राम ने 14 वर्षों के वनवास के बाद अयोध्या में अर्थात अपने राज्य में वापसी की थी। अपने प्रिय राम के आगमन की खुशी में अयोध्यावासियों ने खुशी में अपने अपने घरों की सफाई की थी पूरे नगर को बुहारा गया था। लोगो ने भगवान राम के आने की खुशी में घी के दिये जलाये थे। भगवान राम ने कार्तिक की अमावस्या को अपने राज्य में वापसी की थी,इसलिए प्रत्येक वर्ष कार्तिक की अमावस्या को पूरे भारत मे दीपावली का उत्सव उत्साहपूर्वक मनाया जाता है।

मैंने भी दो दिन लगातार मेहनत कर के दिवाली के लिए पूरे घर की सफाई की है। दीपावली के लिए खरीददारी करते समय जब बाहर निकली तो सारी दुकानें जगमगाती हुई मिली। देख कर अच्छा लगा साफ सुथरी सड़के, पेंट की हुई दीवारें, और एक अलग ही उत्साह लोगो मे दिखाई दिया। जगह जगह दुर्गा माँ की मूर्ति और उसके सामने से सिर झुकाके नमस्कार करते हुए लोग। काश! जितनी इज्जत लोग देवी माँ की करते है उतनी इज्जत वास्तविक महिलाओं की करते तो अच्छा होता। खैर ये तो होने से रहा क्योंकि जबतक लोगो की सोच में स्त्रियां एक देखने की चीज रहेंगी हमे इसी नजर से देखा जाता रहेगा। चाहे कितनी भी कोशिश कर लें लेकिन जब भी बाहर जाओ तो पीछे से समय से आने की एक हिदायत जरूर मिलती है, क्योकि कहते है ना जमाना खराब चल रहा है। समय से घर आना जरूरी है, कुछ कहा नही जा सकता कि किस मोड़ पे या किस गली में घूरती हुई आंखें मिल जाये। ये समाज हम सब से ही बनता है लेकिन फिर भी हम चाह के इसे बदल नही सकते। मैं तो ये दावे के साथ कह सकती हूं कि भारत में 70% महिलाएं किसी न किसी उम्र में इस तरह की अवांछनीय गतिविधियों का शिकार तो हुई ही होंगी। ये बात शायद कुछ पुरुषो को समझ नही आती होगी कि जब रास्ते मे चलते हुए वो घूरते हैं तो हमे कैसा लगता है, या जब भीड़ भरी सड़क या भीड़ भरी बस में कोई छूने की कोशिश करता है तो कितना बुरा लगता है। और अगर किसी से पूछो की ऐसा क्यों होता है तो सुनने में ये भी आता है कि लड़कियाँ इतना तैयार हो के किसलिए आती है दिखाने के लिए ही ना!!! अब जरा कोई ये बताये अगर लड़की को अपने किसी दोस्त के घर शादी में या किसी पार्टी में जाना हो तो वो कैसे जाएगी या फिर अगर उसे खुद ही तैैयार होना पसंद हो तो क्या वो इन लोगों की वजह से तैयार न हो। कुछ को अच्छा लगता है तैयार होना और कुछ को नही लेकिन ऐसा नही होना चाहिए कि किसी की गिरी हुई सोच की वजह से हमे अपने आप को बदलना पड़े। रोज अखबार के पन्ने घिनौनी वारदातों से सने रहते है। अब तो जैसे ये आम बात हो गयी है रोज कही न कही दुष्कर्म की घटना होती ही है फिर भी लोग संस्कारी होने का दावा करते है। अब तो लोगो की आदत भी हो चुकी है ऐसी घटनाओं को पढ़ना और नजरअंदाज कर के दूसरी खबर की ओर बढ़ जाना। एक वो घटना थी जिसने पूरी दिल्ली को दहला के रख दिया था उसके अपराधियों को सजा भी हो चुकी लेकिन रोज की उन घटनाओं का क्या जिनके अपराधी खुले आम कानून व्यवस्था को ठेंगा दिखा के निकल जाते है उनकी तरफ किसी का ध्यान नही जाता। 

आज दीपावली है और मैं ये प्रार्थना करूँगी की एक दिया लोगो के अंधकार भरे मन मे भी जले जिससे आने वाले समय मे लोगों को अपने अपने घर से निकलते हुए किसी प्रकार की अनहोनी का डर न हो और हम अपने मन मे भी आजादी महसूस कर सके। मुझे भरोसा है कि भगवान राम जरूर आएंगे और राम राज्य भी आएगा।

और अंत मे ‘गोपालदास नीरज’ जी की कुछ पंक्तियाँ-

   जलाओ दिए पर रहे ध्यान इतना,

   अंधेरा धरा पर कहीं रह न जाये।

  नई ज्योति के धर नए पंख झिलमिल

   उड़े मर्त्य मिट्टी गगन स्वर्ग छू ले

   लगे रोशनी की झड़ी झूम ऐसी

   निशा की गली में

   तिमिर राह भूले

   खुले मुक्ति का वह

    किरण द्वार जगमग

   उषा जा ना पाए,निशा आ ना पाए।

   जलाओ दिए पर रहे ध्यान इतना

    अंधेरा धरा पर कहीं रह न जाये।

💕मेरी तरफ से सभी पाठको को शुभ दीपावली💕

23 thoughts on “शुभ दीपावली

  1. Happy Diwali. And apne gunaho pe 100 parde daal k hr koi yhi khta hai zamana kharb haii. Or ye zamana hmse hi bnta h to fr q na khud ko bdle. Written right priya

    Liked by 2 people

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s